Top 10] माथेरान दर्शनीय स्थल | Places to visit in matheran in Hindi

Rate this post

क्या आप प्रदूषण से दूर, प्राकृतिक सौन्दर्य से भरपूर जगह की तलाश कर रहे हैं? अगर हाँ, तो महाराष्ट्र का Matheran हिल स्टेशन आपके लिए एकदम सही विकल्प है। यह रमणीय हिल स्टेशन अपनी खूबसूरती के साथ-साथ एक अनोखी खासियत के लिए भी जाना जाता है – यहाँ किसी भी प्रकार की गाड़ी को जाने की अनुमति नहीं है! जी हाँ, गाड़ी मुक्त माथेरान की सैर का आनंद घोड़ागाड़ी या रिक्शे में बैठकर उठाया जा सकता है। तो आइए, इस लेख में हम आगे माथेरान दर्शनीय स्थल के खूबसूरत दृश्यों, रोमांचक पॉइंट्स और ऐतिहासिक धरोहरों के बारे में जानते हैं।

Table of Contents

माथेरान दर्शनीय स्थल – पैनोरमा पॉइंट (Panorama Point)

माथेरान दर्शनीय स्थल
places to visit in matheran in Hindi

कभी सूर्योदय के जादुई नजारे को पहाड़ों की चोटी से देखने का ख्वाब देखा है? अगर हाँ, तो माथेरान हिल स्टेशन के पैनोरमा पॉइंट से बेहतर कुछ नहीं हो सकता। घने जंगलों और हरी-भरी घाटियों से घिरा हुआ, यह पॉइंट आपको ऐसा अनुभव देगा जो जिंदगी भर याद रहेगा। कल्पना कीजिए, आप पहाड़ों की चोटी पर खड़े हैं, सूर्य की पहली किरणें धीरे-धीरे क्षितिज को रंग रही हैं, आसमान गुलाबी और नारंगी रंगों से भर रहा है, और नीचे की घाटियां धीरे-धीरे नींद से जाग रही हैं। पैनोरमा पॉइंट का नजारा इतना मनमोहक होता है कि आप बस खो से जाते हैं।

Timings: सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक

Entry Fee: निःशुल्क

Location: माथेरान दर्शनीय स्थल के उत्तरी छोर पर

How to reach: पैनोरमा पॉइंट तक पहुँचने के लिए आप घोड़ागाड़ी या रिक्शे का सहारा ले सकते हैं, या फिर थोड़ा पैदल चलकर भी वहां पहुंच सकते हैं।

Top 26] अहमदाबाद के पास घूमने की जगह | Best places to visit near Ahmedabad in Hindi

माथेरान में प्रसिद्ध मंदिर – पिसारनाथ मंदिर (Pisarnath Temple)

आइए अब जानते हैं माथेरान की खूबसूरती के बीच अगर आप शांति की अनुभूति करना चाहते हैं, तो पिसारनाथ मंदिर जरूर जाएं। ये प्राचीन शिव मंदिर शांत झील चार्लोट के किनारे स्थित है। मंदिर जाते वक्त रास्ते में आपको हरे-भरे पेड़ों की ठंडी हवा का स्पर्श होगा और पक्षियों की मीठी चहचाहट आपके कानों में सुकून पहुंचाएगी। मंदिर पहुंचकर आप भगवान शिव के दर्शन कर सकते हैं और साथ ही वहां के शांत वातावरण का आनंद ले सकते हैं। यहां मौजूद विशाल घंटी को बजाना न भूलें, दूर तक गूंजती हुई उसकी ध्वनि आपको अ अलौकिक अनुभव कराएगी।

  • समय: सुबह 7 बजे से शाम 7 बजे तक
  • प्रवेश शुल्क: निःशुल्क
  • स्थान: झील चार्लोट के पास
  • कैसे पहुंचे: आप मथेरान स्टेशन से पैदल या रिक्शे में बैठकर झील चार्लोट पहुंच सकते हैं, वहां से मंदिर थोड़ी दूर पर ही स्थित है।

माथेरान के पर्यटन स्थल – मंकी पॉइंट (Monkey Point)

माथेरान के पर्यटन स्थल
places to visit in matheran for couples in Hindi

एक दिलचस्प बात यह है कि माथेरान घूमने आए हैं तो रोमांच पसंद हैं, तो मंकी पॉइंट ज़रूर जाइएगा! ये वो जगह है जहां से दूर-दूर तक फैले पश्चिमी घाटों का नज़ारा आपको रोमांच से भर देगा। जंगल से घिरी ये चट्टान मानो पहाड़ों की छाती पर बनी बालकनी हो. वहां खड़े होकर नीचे देखें, तो घाटियों की गहराई थोड़ी घबराहट ज़रूर पैदा करेगी, लेकिन साथ ही ये नज़ारा इतना मनमोहक होगा कि आप देखते ही रह जाएंगे. माथेरान दर्शनीय स्थल कभी-कभी तो आप भागते हुए बंदरों को भी देख सकते हैं, जो इस जगह का मज़ा और बढ़ा देते हैं. बस थोड़ा सावधानी रखें, अपने सामान का ध्यान रखें और इन शरारती बंदरों को कुछ खाने को न दें!

Timings: सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक
Entry Fee: निःशुल्क
Location: माथेरान के दक्षिणी छोर पर
How to reach: आप घोड़ागाड़ी या रिक्शे का सहारा लेकर मंकी पॉइंट पहुंच सकते हैं।

10 मनाली के पर्यटन स्थल | Hidden Places in Manali in Hindi

माथेरान दर्शनीय स्थल – पॉइंट (Points)

अब आइए देखते हैं माथेरान हिल स्टेशन की खूबसूरती को पूरी तरह से निहारने का सबसे अच्छा तरीका है इसके विभिन्न “पॉइंट्स” पर घूमना। ये पॉइंट दरअसल पहाड़ों के ऐसे छोर हैं जहां से आपको अद्भुत नज़ारे देखने को मिलते हैं। हर पॉइंट का अपना अलग ही नजारा है, कहीं से सूर्योदय की रंगीन तस्वीर दिखती है, तो कहीं से दूर तक फैले जंगलों का हरा सागर। माथेरान दर्शनीय स्थल कुछ पॉइंट शांत झीलों के किनारे हैं, तो कुछ ऊंची चट्टानों पर जहां से नीचे घाटियों का रोमांचकारी दृश्य दिखता है। इन पॉइंट्स तक पहुंचने के लिए आप घोड़ागाड़ी या रिक्शे का सहारा ले सकते हैं, वहीं थोड़ा पैदल चलने के शौकीन हैं तो ये सैर पैदल भी की जा सकती है। हर पॉइंट पर कुछ देर रुककर, वहां के नजारों को अपने कैमरे में और दिलो-दिमाग में कैद कर लीजिए, ये यादें जिंदगी भर आपके साथ रहेंगी।

  • समय: ज्यादातर पॉइंट्स सुबह 6 बजे से शाम 6 बजे तक खुले रहते हैं।
  • प्रवेश शुल्क: कुछेक पॉइंट्स को छोड़कर, ज्यादातर में कोई शुल्क नहीं लगता।
  • स्थान: माथेरान के विभिन्न स्थानों पर स्थित हैं।
  • कैसे पहुंचे: घोड़ागाड़ी, रिक्शा या पैदल।

माथेरान हिल स्टेशन – लुईसा पॉइंट (Louisa Point)

माथेरान हिल स्टेशन
places to visit in matheran for family in Hindi

मान लीजिए आप माथेरान की खूबसूरती को इतनी करीब से देखना चाहते हैं कि पेड़ों की खुशबू आपको महसूस हो और झरनों की आवाज आपके कानों में गूंजने लगे, तो लुईसा पॉइंट आपके लिए एकदम सही जगह है। ये पॉइंट जंगल से घिरा हुआ है और यहां से आपको कई झरनों का नज़ारा देखने को मिलता है। बारिश के मौसम में तो यहां की खूबसूरती और भी बढ़ जाती है। माथेरान दर्शनीय स्थल थोड़ा नीचे उतर कर आप इन झरनों के पास तक भी जा सकते हैं, उनके स्प्रे को महसूस कर सकते हैं और साथ ही वहां की शांत लेकिन मनमोहक आवाज का मज़ा ले सकते हैं। इस पॉइंट का नाम ब्रिटिश गवर्नर की पत्नी लुईसा के नाम पर रखा गया है।

Timings: सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक
Entry Fee: निःशुल्क
Location: माथेरान के पूर्वी छोर पर
How to reach: आप घोड़ागाड़ी या रिक्शे का सहारा लेकर लुईसा पॉइंट पहुंच सकते हैं।

Top 10] नैनीताल में घूमने की जगह | Places to visit in Nainital in Hindi

माथेरान में करने के लिए चीजें – माथेरान के झरने (Waterfalls of Matheran)

मानसून के दौरान माथेरान हिल स्टेशन एक अलग ही रूप धारण कर लेता है। चारों तरफ हरियाली का सैलाब छा जाता है और पहाड़ों से कई झरने बहने लगते हैं। इन झरनों का संगीत और उनका ठंडा स्प्रे मानो गर्मी और प्रदूषण को धो डालता है। इन झरनों तक पहुंचने के लिए आपको थोड़ा ट्रैकिंग करना पड़ सकता है, लेकिन यकीन मानिए वहां पहुंचने पर आपकी सारी थकान दूर हो जाएगी। झरने के नीचे बने कुंड में आप पैर भी डुबो सकते हैं और प्राकृतिक जलधारा का आनंद ले सकते हैं। ज़रा संभाल कर चलें, चट्टानें थोड़ी फिसलन वाली हो सकती हैं।

  • समय: मानसून के दौरान ही देखने को मिलते हैं।
  • प्रवेश शुल्क: निःशुल्क
  • स्थान: माथेरान के विभिन्न स्थानों पर स्थित हैं, कुछ प्रमुख झरने हैं – डोडानी झरना, पांडवकाडा फॉल, आनंदवाडी झरना और तपावलवाडी झरना।
  • कैसे पहुंचे: घोड़ागाड़ी या रिक्शे से संबंधित झरने तक पहुंचने के लिए पॉइंट तक जाएं, वहां से थोड़ा ट्रैकिंग करना पड़ सकता है।

माथेरान दर्शनीय स्थल – माथेरान मार्केट (Matheran Market)

places to visit in matheran in summer in Hindi

माथेरान की सैर अधूरी है अगर आप वहां के बाज़ार की सैर न करें! गाड़ियों से दूर इस शांत हिल स्टेशन के बाज़ार का अपना ही अलग मजा है। यहां की दुकानें छोटी तो हैं, लेकिन उनमें मिलने वाला सामान बहुत खास है। माथेरान दर्शनीय स्थल स्थानीय हस्तशिल्प की चीजें, ताजे फल और सब्जियां, मसाले और हर्बल चीजें, और भी बहुत कुछ आपको यहां मिल जाएगा। मजे की बात ये है कि यहां सौदेबाजी भी चलती है, तो अपने मोलभाव के हुनर को आजमाना न भूलें! खाने के शौकीन हैं तो यहां के स्पेशल चिक्की और मिट्टियों का स्वाद जरूर लें। शाम ढलने पर बाज़ार की रौनक देखने का अपना ही अलग आनंद है।

  • समय: सुबह 10 बजे से शाम 7 बजे तक (कुछ दुकानें रात 8 बजे तक भी खुलती हैं)
  • प्रवेश शुल्क: निःशुल्क
  • स्थान: माथेरान के मुख्य मार्ग पर
  • कैसे पहुंचें: आप अपने होटल से पैदल ही बाज़ार पहुंच सकते हैं।

Top 10] मसूरी में घूमने की जगह | Places to visit in Mussoorie in Hindi

माथेरान के पास घूमने की जगह – प्रबल किला (Prabal Fort)

इतिहास प्रेमियों के लिए माथेरान हिल स्टेशन पर प्रबल का किला एक छिपा हुआ खजाना है। जंगलों से घिरी ये ऊंची चट्टान पर बना ये किला मानो कहानियों को अपने सीने में समेटे हुए है। थोड़ी चढ़ाई चढ़कर आप इस किले तक पहुंच सकते हैं, रास्ते में आपको पुराने वक्त की झलकियां देखने को मिलेंगी। किले के अंदर तोपों के अवशेष और पानी की टंकियां आज भी मौजूद हैं, जो हमें उस समय के रहन-सहन की जानकारी देती हैं। किले के ऊपर से सूर्यास्त का नजारा देखना भी यादगार बन सकता है।

  • समय: सुबह 9 बजे से शाम 6 बजे तक
  • प्रवेश शुल्क: ₹15 (प्रति वयस्क)
  • स्थान: माथेरान के पश्चिमी छोर पर
  • कैसे पहुंचे: घोड़ागाड़ी या रिक्शे से पॉइंट तक जाएं, वहां से थोड़ी पैदल चढ़ाई करनी पड़ती है।

माथेरान में घूमने वाली जगह – माथेरान टॉय ट्रेन (Matheran Toy Train)

places to visit in matheran hill station in Hindi

माथेरान की सैर का असली मजा तो वहां की प्रसिद्ध टॉय ट्रेन में सफर करके ही आता है। ये ना केवल आपको नेरल से माथेरान तक ले जाती है बल्कि रास्ते में आपको ऐसे खूबसूरत नज़ारे दिखाती है कि आपका दिल खुश हो जाएगा।माथेरान दर्शनीय स्थल एक तरफ घने जंगल, दूसरी तरफ ऊंची-ऊंची चट्टानें और नीचे दिखतीं खाइयां, ये नजारा आपको किसी खूबसूरत सपने जैसा लगेगा। ट्रेन छोटी है, इसकी खुली खिड़कियों से हवा का आना और पेड़ों की खुशबू महसूस करना, ये अनुभव आपको किसी और गाड़ी में नहीं मिलेगा। ट्रेन की सीटें भी आरामदायक हैं और रास्ते में कई जगहों पर ट्रेन रुकती भी है, जिससे आप वहां के खूबसूरत दृश्यों को निहार सकें।

समय: पहली ट्रेन सुबह 7:30 बजे नेरल से चलती है, आखिरी ट्रेन शाम 4:45 बजे माथेरान से चलती है।
प्रवेश शुल्क: टिकट किराया दूरी के हिसाब से लगता है (लगभग ₹100 से ₹200 के बीच)
स्थान: नेरल से माथेरान
कैसे पहुंचे: नेरल रेलवे स्टेशन से टॉय ट्रेन पकड़ें।

Top 10] अल्मोड़ा में घूमने की जगह | Places to visit in Almora in Hindi

माथेरान में होटल – Hotels in Matheran

माथेरान में आपके ठहरने के लिए कई बेहतरीन होटल हैं, जिनमें से कुछ इस प्रकार हैं:

  • रिलैक्स इन्न – ₹1,458 प्रति रात। 4.2-सितारा रेटिंग वाला यह होटल एक लोकप्रिय विकल्प है।
  • ग्रीन हेवन कॉटेज – ₹1,256 प्रति रात। 3.3-सितारा रेटिंग वाला यह कॉटेज एक किफायती विकल्प है।
  • Mauli Niwas – ₹1,600 प्रति रात। 2-सितारा होटल। 3.8-सितारा रेटिंग वाला यह होटल एक अच्छा मध्य-श्रेणी का विकल्प है।
  • होटल लेक व्यू माथेरान – ₹1,680 प्रति रात। 4.2-सितारा रेटिंग वाला यह होटल झील के शानदार दृश्य प्रस्तुत करता है।
  • होटल पॉइंट VIEW – ₹2,808 प्रति रात। 3-सितारा होटल। 3.6-सितारा रेटिंग वाला यह होटल पहाड़ों के शानदार दृश्य प्रस्तुत करता है।

आपकी पसंद और बजट के आधार पर, आपके लिए सबसे अच्छा होटल अलग-अलग हो सकता है।

माथेरान में प्रसिद्ध त्यौहार – भाद्रपद में गणेश चतुर्थी

एक दिलचस्प बात यह है कि माथेरान की खूबसूरती के अलावा, यहां मनाए जाने वाले त्योहार भी सैलानियों को अपनी ओर खींचते हैं। इन त्योहारों में शामिल होना आपको महाराष्ट्र की संस्कृति से रूबरू कराता है। आइए जानते हैं माथेरान के कुछ प्रमुख त्योहारों के बारे में:

  • मई में होने वाला समर फेस्टिवल: इस दौरान नाटक, संगीत और नृत्य की धूम रहती है। लोक कलाकारों की रंगारंग प्रस्तुतियां आपको मंत्रमुग्ध कर देंगी।
  • भाद्रपद में गणेश चतुर्थी: भगवान गणेश की पूजा और आरती में शामिल होना एक अलौकिक अनुभव होता है।
  • अश्विन महीने में दशहरा और नवरात्रि: रावण दहन और मां दुर्गा की पूजा का पर्व माथेरान में भी धूमधाम से मनाया जाता है।
  • कार्तिक में दीपावली: रोशनी और मिठाइयों का यह त्योहार माथेरान के वातावरण को और भी खुशनुमा बना देता है।

माथेरान कैसे पहुंचे – How to reach Matheran

जैसा कि हमने देखा प्रदूषण और भीड़ से दूर, प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर माथेरान तक पहुंचने के लिए कोई सीधी सड़क मार्ग या हवाई मार्ग नहीं है। लेकिन चिंता मत कीजिए, यहां पहुंचने के लिए रास्ते में मिलने वाले खूबसूरत नज़ारों का मज़ा लेना अपने आप में एक यादगार अनुभव होगा। तो आइए जानते हैं माथेरान तक पहुंचने के विभिन्न तरीकों के बारे में:

रेलवे (Railway):

यह माथेरान पहुंचने का सबसे लोकप्रिय और सुविधाजनक तरीका है।

  • मुंबई से: आप मुंबई CST स्टेशन से नेरल तक ट्रेन ले सकते हैं। वहां से, प्रसिद्ध माथेरान टॉय ट्रेन आपको सीधे माथेरान ले जाएगी। यात्रा का समय लगभग 2 घंटे लगता है।
  • टॉय ट्रेन का किराया: लगभग ₹100 से ₹200 के बीच (दूरी के अनुसार)
  • समय: पहली ट्रेन सुबह 7:30 बजे नेरल से चलती है, आखिरी ट्रेन शाम 4:45 बजे माथेरान से चलती है।

रोडवेज (Roadways):

यदि आप सड़क मार्ग से यात्रा करना पसंद करते हैं, तो आप मुंबई या पुणे से टैक्सी या निजी वाहन से नेरल तक जा सकते हैं। वहां से, आपको माथेरान तक जाने के लिए रिक्शा या घोड़ागाड़ी मिल जाएगी।

  • मुंबई से: लगभग 83 किलोमीटर की दूरी तय करने में आपको लगभग 2-3 घंटे लग सकते हैं। टैक्सी किराया यात्रा के प्रकार और वाहन पर निर्भर करता है।
  • पुणे से: लगभग 121 किलोमीटर की दूरी तय करने में आपको लगभग 3-4 घंटे लग सकते हैं। टैक्सी किराया मुंबई से अधिक हो सकता है।

नोट: माथेरान एक पर्यावरण संवेदनशील क्षेत्र है, इसलिए वहां किसी भी तरह के निजी वाहन को ले जाने की अनुमति नहीं है। नेरल से माथेरान तक जाने के लिए आपको रिक्शा या घोड़ागाड़ी का सहारा लेना होगा।

पीनट बटर बनाने का व्यवसाय कैसे करें | Peanut butter making business in hindi

निष्कर्ष – Conclusion

प्रकृति की गोद में बसा शांत और खूबसूरत हिल स्टेशन माथेरान, वा verdade किसी भी यात्री के लिए एक आदर्श स्थान है। गाड़ियों से दूर, शांत वातावरण, मनमोहक दृश्य और ऐतिहासिक स्थल मिलकर माथेरान को घूमने लायक बनाते हैं। पर्यावरण को ध्यान में रखते हुए बनाए गए इस हिल स्टेशन पर घूमने के लिए घोड़ागाड़ी और रिक्शा का सहारा लिया जा सकता है। तो देर किस बात की, अपना बैग पैक करें और प्राकृतिक सौंदर्य से भरपूर माथेरान की सैर पर निकल जाइए। यकीन मानिए, ये पल आप जिंदगी भर याद रखेंगे।

Top 10] दार्जिलिंग में घूमने की जगह | Best places to visit in Darjeeling in Hindi

माथेरान दर्शनीय स्थल के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले सवाल (FAQ)

Q. माथेरान कहां है

Ans. यह रायगढ़ जिले में पश्चिमी घाटों की पहाड़ियों में स्थित है। मुंबई से इसकी दूरी 80 किलोमीटर और पुणे से 120 किलोमीटर है।
माथेरान अपनी हरी-भरी पहाड़ियों, शांत झीलों, और मनोरम दृश्यों के लिए जाना जाता है। यह एक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है, खासकर गर्मी के महीनों में, जब लोग शहरों की गर्मी से बचने के लिए यहाँ आते हैं।

Q. माथेरान जाने का सबसे अच्छा समय कौन सा है?

Ans. माथेरान जाने का सबसे अच्छा समय अक्टूबर से मार्च तक का होता है। इस दौरान मौसम सुखद होता है और पर्यटन के लिए अनुकूल होता है।

Q. माथेरान में क्या-क्या देखने लायक है?

Ans. माथेरान में देखने लायक कई जगहें हैं, जिनमें शामिल हैं:
पॉइंट व्यू:यह माथेरान का सबसे ऊँचा स्थान है, जहाँ से आप आसपास के मनोरम दृश्यों का आनंद ले सकते हैं।माथेरान टॉय ट्रेन:यह एक ऐतिहासिक ट्रेन है जो आपको नेरल से माथेरान तक ले जाती है। यह यात्रा अपने आप में एक अनुभव है।

Q. माथेरान में रहने के लिए कहाँ रुकें?

Ans. माथेरान में कई होटल और रिसॉर्ट हैं जो विभिन्न बजट और आवश्यकताओं के अनुरूप हैं। आप अपनी पसंद के अनुसार होटल चुन सकते हैं।

Q. माथेरान जाने के लिए क्या-क्या साथ ले जाना चाहिए?

Ans. माथेरान जाने के लिए आपको आरामदायक कपड़े, जूते, सनस्क्रीन, टोपी, पानी की बोतल और आवश्यक दवाएं साथ ले जानी चाहिए।

डाटा साइंटिस्ट कैसे बने | How to become a data scientist in hindi

Leave a Reply